Friday, 8 February 2019

author photo

110+ Romantic Shayari in Hindi | रोमांटिक शायरी GF और BF  के लिए 



तेरे हाथ की मैं वो लकीर बन जाऊं सिर्फ मैं ही तेरा मुकद्दर तेरी तक़दीर बन जाऊं इतना चाहूँ मैं तुम्हें कि तू हर रिश्ता भूल जाये और सिर्फ मैं ही तेरे हर रिश्ते की तस्वीर बन जाऊं !!


वो करते हैं बात इश्क़ की पर इश्क़ के दर्द का उन्हें एहसास नहीं इश्क़ वो चाँद है जो दिखता तो है सबको पर उसे पाना सब के बस की बात नहीं !!


तू ही बता दिल कि तुम्हें समझाऊं कैसे जिसे चाहता है तू उसे नज़दीक लाऊँ कैसे यूँ तो हर तमन्ना हर एहसास है वो मेरा मगर उस एहसास को ये एहसास दिलाऊं कैसे !!


ना तसवीर है तुम्हारी जो दीदार किया जाये ना तुम हो पास जो प्यार किया जाये ये कौन सा दर्द दिया है तुमने ऐ सनम ना कुछ कहा जाये ना तुम बिन रहा जाये !!


सिर्फ इतना ही कहा है कि प्यार है तुमसे जज़्बातों की कोई नुमाईश नहीं की प्यार के बदले सिर्फ प्यार माँगा है इससे ज्यादा तो कभी कोई गुज़ारिश नहीं की !!


जज़्बात बहक जाते हैं जब तुमसे मिलते हैं अरमान मचल जाते हैं जब तुमसे मिलते हैं आँखों से आँखें हाथों से हाथ मिल जाते हैं दिल से दिल रूह से रूह मिल जाती है जब तुमसे मिलते हैं !!


कहा ये किसी ने कि फूलों से दिल लगाऊं मैं अगर तेरा ख्याल न सोचूं तो मर जाऊं मैं माँग ना मुझसे तू हिसाब मेरी मोहब्बत का आ जाऊं इम्तिहान पे तो हद से गुज़र जाऊं मैं !!


कोई है जिसका इस दिल को इंतज़ार है ख्यालों में भी बस उसका ही ख्याल है खुशियां मैं सारी उस पर लुटा दूँ कब आएगा वो चाहने वाला जिसका इस दिल को इंतज़ार है !!


तेरी मोहब्बत में एक अजब सा नशा है तभी तो सारी दुनिया हमसे ख़फ़ा है ना करो तुम हमसे इतनी मोहब्बत कि दिल ही हमसे पूछे बता तेरी धड़कन कहाँ है !!


जिस पल आप दिल से मुस्कुराओगे: अपनी हँसी में हमारी झलक पाओगे! न समझना कि साथ छोड़ देंगे हम पलट कर देखोगे तो हर राह पर हमें पाओगे !!


जिस पल आप दिल से मुस्कुराओगे अपनी हँसि में हमारी झलक पाओगे! न समझना कि साथ छोड़ देंगे हम पलट कर देखोगे तो हर राह पर हमें पाओगे !!


मोहब्बत भी अजीब चीज बनायीं खुदा तूने! तेरे ही मंदिर में तेरी ही मस्जिद में तेरे ही बंदे तेरे ही सामने रोते हैं! तुझे नहीं किसी और को पाने के लिए !!


अश्क बन कर आँखों से बहते हैं बहती आँखों से उनका दीदार करते हैं! माना की ज़िंदगी मे उन्हें पा नही सकते फिर भी हम उनसे बहुत प्यार करते हैं !!


शाम भी खास है वक़्त भी खास है तुझको भी एहसास है तो मुझको भी एहसास है इससे जयादा मुझे और क्या चाहिए जब मैं तेरे पास और तु मेरे पास है !!


तेरी जुदाई भी हमें प्यार करती है तेरी याद बहुत बेकरार करती है वह दिन जो तेरे साथ गुज़ारे थे नज़रें तलाश उनको बार-बार करती हैं !!


दिल में एक दर्द लिए जिये जा रहा हूँ तेरी मोहब्बत का जाम पिये जा रहा हूँ न चाहते हुए भी यह काम किये जा रहा हूँ न जाने खुद को कौन सी मंजिल पर लिये जा रहा हूँ !!


बड़ी मुद्दत से चाहा है तुम्हें बड़ी दुआओं से पाया है तुम्हें तुझे भुलाने का सोचु भी कैसे किस्मत की लकीरों से चुराया है तुम्हें !!


हर फूल की अजब कहानी है चुप रहना भी एक प्यार की निशानी है कही कोई ज़ख्म तो नहीं फिर भी क्यों यह एहसास है लगता है दिल का एक टुकड़ा आज भी उसके पास है !!


हर ख़ामोशी का मतलब इन्कार नहीं होता हर नाकामयाबी का मतलब हार नहीं होता तो क्या हुआ अगर हम तुम्हें न पा सके सिर्फ पाने का मतलब ही प्यार नहीं होता !!


अगर जिंदगी में जुदाई न होती तो कभी किसी की याद न आई होती अगर साथ गुजरा होता हर लम्हा तो सायद रिस्तो में इतनी गहराई न होती !!


लोग कहते हैं कि इश्क इतना मत करो कि हुस्न सर पर सवार हो जाये! हम कहते हैं कि इश्क इतना करो कि पत्थर दिल को भी तुमसे प्यार हो जाये !!


बदलना आता नहीं हमको मौसम की तरह हम हर एक रूप में तेरा इंतज़ार करते हैं न समेट सकोंगी तुम इसे क़यामत की तरह कसम तुम्हारी हम तुम्हें इतना प्यार करते हैं !!


तुमने चाहा ही नहीं हालात बदल सकते थे तेरे आंसू मेरी आँखों से निकल सकते थे तुम तो ठहरे रहे झील के पानी की तरह दरिया बनते तो बहुत दूर निकल सकते थे !!


कुछ चेहरे कभी भुलाये नहीं जाते कुछ नाम दिल से मिटाए नहीं जाते मुलाक़ात हो या न हो लेकिन अऐ यार प्यार के चिराग कभी बुझाये नहीं जाते !!


विश्वाश की एक डोरी है प्यार बेताब दिल की मजबूरी है प्यार न मानो तो कुछ नहीं और मानो तो हमारी कमज़ोरी है प्यार !!


मिस्ड कॉल तो एक बहाना है इरादा तो आपका एक लम्हा चुराना है आप चाहे हमसे बात करो या न करो आपकी यादों में हमारा आना जाना है !!


देख मेरे प्यार की गहराइयों में सोच मेरे बारे में तन्हाइयों में अगर हो जाये मेरी चाहत का यकीन तो पाओगे मुझे अपनी परछाइयों में !!


दर्द तेरी जुदाई का सब से छिपाए रखूंगी मैं तुजे हमेशा अपना बनाये रखूंगी तुजे लगे ना यार बुरी नजर किसी की मैं तुजे हर पल दिल में बसाए रखूंगी !!


प्यार हद से बढ़ जाए तो सजा देता है ये और बात है की जन्नत का मजा देता है साथी मनचाहा मिल जाए तो कहना ही क्या वो जुदा हो जाए तो खाक में मिला देता है !!


तेरी याद आती है तो तड़पता बहुत हु सच तुजे याद करके सिसकता बहुत हु मेरे सनम मैं तेरा प्यार भुला नहीं सकता तुजे पहुंचा ही नहीं पाताख़त लिखता बहुत हु !!


तेरा ही अंगसे तेरी ही खुशबु है जिगर में जी रहा हु मैं तेरे नसे के असर में सनम तुम देखने वालो से ये ना पूछो क्या चीज हो तुमदेखने वालो की नजर में !!


रोक सकेंगे ना राहें हमारी प्यार के दुश्मन ज़माने वाले दो दिल जुदा न होंगे कभी कुछ भी करे प्यार के मिटाने वाले !!


इस तरह अपनी आँखे मटकाओ मत तुम्हारे प्यार में पागल हु भटकाओ मत अगर तुम नहीं मिले तो मर जाऊँगा मैं इस तरह मुझे यूँ तडपाओ मत !!


दर्द देने वाले शरीके गम नहीं होते जहाँ में चाहने वाले कभी कम नहीं होते कुछ की चाहत होती है पैमानो की तरह ऐसे चाहने वालो में हम नहीं होते !!


तेरी निगाह से ऐसी शराब पी मैंने की फिर कभी ना होश का दावा किया कभी मैंने वो और होंगे जिन्हें मोट आ गई होगी निगाहें यार से पायी है जिन्दगी मैने !!


चाँद भी सूरज से ही चमकता है फुल खिलने के बाद ही महकता है सनम प्यार करने वाले कहते नहीं उनकी आँखों से प्यार छलकता है !!


वो आप अपनी नजर में समाये जाते है संवारते जाते है और मुस्कुराए जाते है मेरे दिल को छीन कर छीन लिया मेरा करार मेरे दिल की हालत वो मुझे बताये जाते है !!


रब से आपकी खुशीयां मांगते है दुआओं में आपकी हंसी मांगते है सोचते है आपसे क्या मांगे चलो आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगते है !!


खफा भी करते हैवफा भी करते है अपने प्यार को वो आंखो से बयां भी करते है ना जाने कैसी नाराजगी है उनकी हमसे हमें खोना भी चाहते है और पाने की दुआ भी करते है !!


दिल जीत लें वो नजर हम भी रखते है भीड़ में भी आए नजर वो असर हम भी रखते है यूं तो वादा किया है किसी से हर दम मुस्कुराने का वरना इन आंखों में समंदर हम भी रखते है !!


सदियों बाद उस अजनबी से मुलाकात हुई आंखों आंखों में चाहत की हर बात हुई जाते हुए उसने देखा मुझे चाहत भरी निगाहों से मेरी भी आंखों से आंसुओं की बरसात हुई !!


आज आसमान में तारे कम दिखे बारिश में पत्ते नम दिखे जिनके नजरों में जगह नहीं थी हमारे लिए खुदा की कसम आज आंखों में हम दिखे !!


जलाते है हम अपने दिल को दिए की तरह तेरी जिंदगी में खुशीयों की रोशनी लाने के लिए सह जाते है हर चुभन को अपने पैरों तले तेरी राहों में फूल बिछाने के लिए !!


तमन्ना से नहीं तन्हाई से डर लगता है प्यार से नहीं रूसवाई से डर लगता है मिलने की तो बहुत चाहत है पर मिलने के बाद जुदाई से डरते है !!


दिल को उसके हसरत से खफा कैसे करूं अपने रब को भूल जाने की खता कैसे करूं लहू बन कर रग-रग में बस गए हैवो लहू को इस जिस्म से जुदा कैसे करूं !!


तुम हंसती हो मुझे हंसाने के लिए तुम रोती हो मुझे रूलाने के लिए तुम एक बार रुठ कर देखो मर जाऊंगा तुम्हें मनाने के लिए !!


साथ चलने के लिए साथी चाहिए आंसू रोकने के लिए मुस्कान चाहिए जिंदा रहने के लिए जिंदगी चाहिए और जिंदगी जीने के लिए आप चाहिए !!


निगाहें आपकी पहचान है हमारी मुस्कुराहट आपकी शान है हमारी रखना अपने आपको हिफाजत से क्योंकि सांसे आपकी जान है हमारी !!


क्या-क्या तेरे नाम लिखूं दिल लिखूं की जान लिखूं आंसू चुरा के तेरे प्यारे आंखों से अपनी हर खुशी तेरे नाम लिखूं !!


परवाह कर उसकी जो तेरी परवाह करे जिंदगी में जो न कभी तन्हा करे तुम बन कर उतर जाना उसकी रूह में जो जान से भी ज्यादा तुम से वफा करें !!


ऐ जिंदगी मुझे से दगा ना कर मैं जिंदा रहूं ये दुआ न कर कोई छुता है तुझको तो होती है जलन ऐ हवा तू भी उसे छुआ न कर !!


सुना है वो जाते हुए कह गए है कि अब तो हम सिर्फ तुम्हारे ख्वाबों में आएंगे कोई कह दे उनसे की वो वादा कर लें हम जिंदगी भर के लिए सो जाएंगे !!


तूझे चाहकर कैसे किसी की चाह करूंगा तूझे भूलकर क्यूं खुद को तबाह करूंगा तू जिंदगी नहीं दिल्लगी भी है फिर क्यूं और किसी को सोच के गुनहा करूंगा !!


तेरी आरजू में हमने बहारों को देखा तेरी ख्यालों में हमने सितारों को देखा पंसद था बस आपका साथ वरना इन आंखों ने तो हजारों को देखा !!


हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की कोई और ख्वाहिश नहीं है इस दिवाने की शिकवा मुझे तुम से नहीं खुदा से है क्या जरूरत थी तुम्हें इतनी खूबसूरत बनाने की !!


उसने कहा “भरोसा दिल पर इतना नहीं करते” मैंने कहा “प्यार में कभी सोचा नहीं करते” उसने कहा “बहुत कुछ दुनिया के नजरों में हैं” मैंने कहा “जब तुम साथ हो तो हम कुछ और देखा नहीं करते” !!


मेरे वजूद में ऐ काश तू उतर जाए मैं देखूं आईना और तू नजर आए तू हो सामने और वक्त ठहर जाए ये जिंदगी तूझे यूं ही देखते हुए गुजर जाए !!


सिर्फ जुबां से किया हुआ ही वादा नहीं होता बार-बार इजहार से प्यार ज्यादा नहीं होता मुझे जानना है तो मेरी रूह में समा जाओ सिर्फ कनारे से समंदर का अंदाजा नहीं होता !!


प्यार का बदला कभी चुका न सकेंगे चाह कर भी आपको भुला न सकेंगे तुम ही हो मेरे लबों की हंसी तुम से बिछड़े तो फिर मुस्कुरा न सकेंगे !!


तन्हाइयों में मुस्कुराना इश्क है; एक बात को सबसे छुपाना इश्क है; यूं तो नींद नहीं आती हमें रात भर; मगर सोते-सोते जागना और जागते-जागते सोना इश्क है !!


बड़ा मज़ा आता है उसे बार-बार मुझे सताने में क्यो भूल जाती है कि नहीं मिलेगा कोई मुझसा चाहने वाला इस जमाने में नहीं आए यकीं तो फिर आज़माकर देख लेना कुछ बात अलग है इस दीवाने में तारीफ नहीं करता खुद की... मगर ये सच है... कोई कसर नहीं छोडूंगा तेरा साथ निभाने में।


जो मैं वक़्त बन जाऊं तू बन जाना लम्हा मैं तुझमें गुजर जाऊं तू मुझमें गुजर जाये।


तुम्हारी ज़ुल्फ़ों के साये में शाम कर लूंगा सफर इस उम्र का पल में तमाम कर लूंगा।


​आपसे रोज़ मिलने को दिल चाहता है​​​ ​कुछ सुनने सुनाने को दिल चाहता है​​​ ​था आपके मनाने का अंदाज़ ऐसा​​​ ​कि फिर रूठ जाने को दिल चाहता है​।


बहके बहके ही अंदाज-ए-बयां होते हैं आप जब होते हैं तो होश कहाँ होते हैं।


ये आलम शौक़ का देखा न जाये वो बुत है या ख़ुदा देखा न जाये ये किन नज़रों से तुम ने आज देखा कि तेरा देखना ​देखा ​ना जाये।


मजा आता अगर गुजरी हुई बातों का अफसाना कहीं से तुम बयाँ करते कहीं से हम बयाँ करते।


यार पहलू में है तन्हाई है कह दो निकले आज क्यूँ दिल में छुपी बैठी है हसरत मेरी।


अदा से देख लो जाता रहे गिला दिल का बस इक निगाह पे ठहरा है फ़ैसला दिल का।


चलते चलते राह में उन से मुलाकात हुई वो कुछ शरमाई फिर सहम सी गई दिल तो हमारा भी किया कि कह दे उनसे अपने दिल की बात... पर कम्बखत इस दिल की इतनी हिम्मत ही न हुई.


सपनों की दुनिया में हम खोते चले गए मदहोश न थे पर मदहोश होते चले गए ना जाने क्या बात थी उस चेहरे में ना चाहते हुए भी उसके होते चले गए।


जो तेरे गुलाबी लब मेरे लबों को छू जायें मेरी रूह का मिलन तेरी रूह से हो जाये ज़माने की साज़िशों से बेपरवाह हो जायें मेरे ख्वाब कुछ देर तेरी बाहों में सो जायें मिटा कर फ़ासले हम प्यार में खो जायें आ कुछ पल के लिये एक-दूजे के हो जायें।


तेरे हर गम को अपनी रूह में उतार लूँ ज़िन्दगी अपनी तेरी चाहत में संवार लूँ मुलाकात हो तुझसे कुछ इस तरह मेरी सारी उम्र बस एक मुलाकात में गुज़ार लूँ।


अब आ गए हो आप तो आता नहीं कुछ याद वरना कुछ हमको आप से कहना ज़रूर था।


चाहा है तुम्हें अपने अरमान से भी ज्यादा लगती हो हसीन तुम मुस्कान से भी ज्यादा मेरी हर धड़कन हर साँस है तुम्हारे लिए क्या माँगोगे जान मेरी जान से भी ज्यादा।


अपने दिल की जमाने को बता देते हैं हर एक राज से परदे को उठा देते हैं आप हमें चाहें न चाहें गिला नहीं इसका जिसे चाह लें हम उसपे जान लुटा देते हैं।


कब आपकी आँखों में हमें मिलेगी पनाह चाहे इसे समझो दिल्लगी या समझो गुनाह अब भले ही हमें कोई दीवाना करार दे हम तो हो गए हैं आपके प्यार में फ़ना।


तड़प रहीं हैं मेरी साँसें तुझे महसूस करने को खुशबू की तरह बिखर जाओ तो कुछ बात बने।


आ जाओ किसी रोज तुम्हारी रूह मे उतर जाऊँ साथ रहूँ मैं तुम्हारे ना किसी और को नज़र आऊँ चाहकर भी मुझे छू ना सके कोई इस तरह तुम कहो तो यूँ तुम्हारी बाहों में बिखर जाऊँ।


जब कभी सिमटोगे तुम... मेरी इन बाहों में आकर मोहब्बत की दास्तां मैं नहीं मेरी धड़कने सुनाएंगी।


खुशबू की तरह आसपास बिखर जायेंगे सुकून बनकर दिल में उतर जायेंगे महसूस करने की कोशिश कीजिये दूर होकर भी आपके पास नजर आएंगे।


मेरी ज़िन्दगी की ये सबसे बड़ी तमन्ना हैं मेरे पास रहो तुम हमेशा मेरी साँस बनके।


मेरे आँखों के ख्वाब दिल के अरमान हो तुम तुम से ही तो मैं हूँ मेरी पहचान हो तुम मैं ज़मीन हूँ अगर तो मेरे आसमान हो तुम सच मानो मेरे लिए तो सारा जहां हो तुम।


हमारी गलतियों से कही टूट न जाना हमारी शरारत से कही रूठ न जाना तुम्हारी चाहत ही हमारी जिंदगी हैं इस प्यारे से बंधन को भूल न जाना !!

अश्क बन कर आँखों से बहते हैं बहती आँखों से उनका दीदार करते हैं! माना की ज़िंदगी मे उन्हें पा नही सकते फिर भी हम उनसे बहुत प्यार करते हैं !!


शाम भी खास है वक़्त भी खास है तुझको भी एहसास है तो मुझको भी एहसास है इससे जयादा मुझे और क्या चाहिए जब मैं तेरे पास और तु मेरे पास है !!


तेरी जुदाई भी हमें प्यार करती है तेरी याद बहुत बेकरार करती है वह दिन जो तेरे साथ गुज़ारे थे नज़रें तलाश उनको बार-बार करती हैं !!


दिल में एक दर्द लिए जिये जा रहा हूँ तेरी मोहब्बत का जाम पिये जा रहा हूँ न चाहते हुए भी यह काम किये जा रहा हूँ न जाने खुद को कौन सी मंजिल पर लिये जा रहा हूँ !!


बड़ी मुद्दत से चाहा है तुम्हें बड़ी दुआओं से पाया है तुम्हें तुझे भुलाने का सोचु भी कैसे किस्मत की लकीरों से चुराया है तुम्हें !!


हर फूल की अजब कहानी है चुप रहना भी एक प्यार की निशानी है कही कोई ज़ख्म तो नहीं फिर भी क्यों यह एहसास है लगता है दिल का एक टुकड़ा आज भी उसके पास है !!


हर ख़ामोशी का मतलब इन्कार नहीं होता हर नाकामयाबी का मतलब हार नहीं होता तो क्या हुआ अगर हम तुम्हें न पा सके सिर्फ पाने का मतलब ही प्यार नहीं होता !!


अगर जिंदगी में जुदाई न होती तो कभी किसी की याद न आई होती अगर साथ गुजरा होता हर लम्हा तो सायद रिस्तो में इतनी गहराई न होती !!


लोग कहते हैं कि इश्क इतना मत करो कि हुस्न सर पर सवार हो जाये! हम कहते हैं कि इश्क इतना करो कि पत्थर दिल को भी तुमसे प्यार हो जाये !!


बदलना आता नहीं हमको मौसम की तरह हम हर एक रूप में तेरा इंतज़ार करते हैं न समेट सकोंगी तुम इसे क़यामत की तरह कसम तुम्हारी हम तुम्हें इतना प्यार करते हैं !!


तुमने चाहा ही नहीं हालात बदल सकते थे तेरे आंसू मेरी आँखों से निकल सकते थे तुम तो ठहरे रहे झील के पानी की तरह दरिया बनते तो बहुत दूर निकल सकते थे !!


कुछ चेहरे कभी भुलाये नहीं जाते कुछ नाम दिल से मिटाए नहीं जाते मुलाक़ात हो या न हो लेकिन अऐ यार प्यार के चिराग कभी बुझाये नहीं जाते !!


विश्वाश की एक डोरी है प्यार बेताब दिल की मजबूरी है प्यार न मानो तो कुछ नहीं और मानो तो हमारी कमज़ोरी है प्यार !!


मिस्ड कॉल तो एक बहाना है इरादा तो आपका एक लम्हा चुराना है आप चाहे हमसे बात करो या न करो आपकी यादों में हमारा आना जाना है !!


देख मेरे प्यार की गहराइयों में सोच मेरे बारे में तन्हाइयों में अगर हो जाये मेरी चाहत का यकीन तो पाओगे मुझे अपनी परछाइयों में !!


दर्द तेरी जुदाई का सब से छिपाए रखूंगी मैं तुजे हमेशा अपना बनाये रखूंगी तुजे लगे ना यार बुरी नजर किसी की मैं तुजे हर पल दिल में बसाए रखूंगी !!


प्यार हद से बढ़ जाए तो सजा देता है ये और बात है की जन्नत का मजा देता है साथी मनचाहा मिल जाए तो कहना ही क्या वो जुदा हो जाए तो खाक में मिला देता है !!


तेरी याद आती है तो तड़पता बहुत हु सच तुजे याद करके सिसकता बहुत हु मेरे सनम मैं तेरा प्यार भुला नहीं सकता तुजे पहुंचा ही नहीं पाताख़त लिखता बहुत हु !!


तेरा ही अंगसे तेरी ही खुशबु है जिगर में जी रहा हु मैं तेरे नसे के असर में सनम तुम देखने वालो से ये ना पूछो क्या चीज हो तुमदेखने वालो की नजर में !!


रोक सकेंगे ना राहें हमारी प्यार के दुश्मन ज़माने वाले दो दिल जुदा न होंगे कभी कुछ भी करे प्यार के मिटाने वाले !!


इस तरह अपनी आँखे मटकाओ मत तुम्हारे प्यार में पागल हु भटकाओ मत अगर तुम नहीं मिले तो मर जाऊँगा मैं इस तरह मुझे यूँ तडपाओ मत !!


दर्द देने वाले शरीके गम नहीं होते जहाँ में चाहने वाले कभी कम नहीं होते कुछ की चाहत होती है पैमानो की तरह ऐसे चाहने वालो में हम नहीं होते !!


तेरी निगाह से ऐसी शराब पी मैंने की फिर कभी ना होश का दावा किया कभी मैंने वो और होंगे जिन्हें मोट आ गई होगी निगाहें यार से पायी है जिन्दगी मैने !!


चाँद भी सूरज से ही चमकता है फुल खिलने के बाद ही महकता है सनम प्यार करने वाले कहते नहीं उनकी आँखों से प्यार छलकता है !!


वो आप अपनी नजर में समाये जाते है संवारते जाते है और मुस्कुराए जाते है मेरे दिल को छीन कर छीन लिया मेरा करार मेरे दिल की हालत वो मुझे बताये जाते है !!


रब से आपकी खुशीयां मांगते है दुआओं में आपकी हंसी मांगते है सोचते है आपसे क्या मांगे चलो आपसे उम्र भर की मोहब्बत मांगते है !!


खफा भी करते हैवफा भी करते है अपने प्यार को वो आंखो से बयां भी करते है ना जाने कैसी नाराजगी है उनकी हमसे हमें खोना भी चाहते है और पाने की दुआ भी करते है !!


दिल जीत लें वो नजर हम भी रखते है भीड़ में भी आए नजर वो असर हम भी रखते है यूं तो वादा किया है किसी से हर दम मुस्कुराने का वरना इन आंखों में समंदर हम भी रखते है !!


सदियों बाद उस अजनबी से मुलाकात हुई आंखों आंखों में चाहत की हर बात हुई जाते हुए उसने देखा मुझे चाहत भरी निगाहों से मेरी भी आंखों से आंसुओं की बरसात हुई !!


आज आसमान में तारे कम दिखे बारिश में पत्ते नम दिखे जिनके नजरों में जगह नहीं थी हमारे लिए खुदा की कसम आज आंखों में हम दिखे !!


जलाते है हम अपने दिल को दिए की तरह तेरी जिंदगी में खुशीयों की रोशनी लाने के लिए सह जाते है हर चुभन को अपने पैरों तले तेरी राहों में फूल बिछाने के लिए !!


तमन्ना से नहीं तन्हाई से डर लगता है प्यार से नहीं रूसवाई से डर लगता है मिलने की तो बहुत चाहत है पर मिलने के बाद जुदाई से डरते है !!


दिल को उसके हसरत से खफा कैसे करूं अपने रब को भूल जाने की खता कैसे करूं लहू बन कर रग-रग में बस गए हैवो लहू को इस जिस्म से जुदा कैसे करूं !!


तुम हंसती हो मुझे हंसाने के लिए तुम रोती हो मुझे रूलाने के लिए तुम एक बार रुठ कर देखो मर जाऊंगा तुम्हें मनाने के लिए !!


साथ चलने के लिए साथी चाहिए आंसू रोकने के लिए मुस्कान चाहिए जिंदा रहने के लिए जिंदगी चाहिए और जिंदगी जीने के लिए आप चाहिए !!


निगाहें आपकी पहचान है हमारी मुस्कुराहट आपकी शान है हमारी रखना अपने आपको हिफाजत से क्योंकि सांसे आपकी जान है हमारी !!


क्या-क्या तेरे नाम लिखूं दिल लिखूं की जान लिखूं आंसू चुरा के तेरे प्यारे आंखों से अपनी हर खुशी तेरे नाम लिखूं !!


परवाह कर उसकी जो तेरी परवाह करे जिंदगी में जो न कभी तन्हा करे तुम बन कर उतर जाना उसकी रूह में जो जान से भी ज्यादा तुम से वफा करें !!


ऐ जिंदगी मुझे से दगा ना कर मैं जिंदा रहूं ये दुआ न कर कोई छुता है तुझको तो होती है जलन ऐ हवा तू भी उसे छुआ न कर !!


सुना है वो जाते हुए कह गए है कि अब तो हम सिर्फ तुम्हारे ख्वाबों में आएंगे कोई कह दे उनसे की वो वादा कर लें हम जिंदगी भर के लिए सो जाएंगे !!


तूझे चाहकर कैसे किसी की चाह करूंगा तूझे भूलकर क्यूं खुद को तबाह करूंगा तू जिंदगी नहीं दिल्लगी भी है फिर क्यूं और किसी को सोच के गुनहा करूंगा !!


तेरी आरजू में हमने बहारों को देखा तेरी ख्यालों में हमने सितारों को देखा पंसद था बस आपका साथ वरना इन आंखों ने तो हजारों को देखा !!


हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की कोई और ख्वाहिश नहीं है इस दिवाने की शिकवा मुझे तुम से नहीं खुदा से है क्या जरूरत थी तुम्हें इतनी खूबसूरत बनाने की !!


उसने कहा “भरोसा दिल पर इतना नहीं करते” मैंने कहा “प्यार में कभी सोचा नहीं करते” उसने कहा “बहुत कुछ दुनिया के नजरों में हैं” मैंने कहा “जब तुम साथ हो तो हम कुछ और देखा नहीं करते” !!


मेरे वजूद में ऐ काश तू उतर जाए मैं देखूं आईना और तू नजर आए तू हो सामने और वक्त ठहर जाए ये जिंदगी तूझे यूं ही देखते हुए गुजर जाए !!


सिर्फ जुबां से किया हुआ ही वादा नहीं होता बार-बार इजहार से प्यार ज्यादा नहीं होता मुझे जानना है तो मेरी रूह में समा जाओ सिर्फ कनारे से समंदर का अंदाजा नहीं होता !!


प्यार का बदला कभी चुका न सकेंगे चाह कर भी आपको भुला न सकेंगे तुम ही हो मेरे लबों की हंसी तुम से बिछड़े तो फिर मुस्कुरा न सकेंगे !!


तन्हाइयों में मुस्कुराना इश्क है; एक बात को सबसे छुपाना इश्क है; यूं तो नींद नहीं आती हमें रात भर; मगर सोते-सोते जागना और जागते-जागते सोना इश्क है !!


बड़ा मज़ा आता है उसे बार-बार मुझे सताने में क्यो भूल जाती है कि नहीं मिलेगा कोई मुझसा चाहने वाला इस जमाने में नहीं आए यकीं तो फिर आज़माकर देख लेना कुछ बात अलग है इस दीवाने में तारीफ नहीं करता खुद की... मगर ये सच है... कोई कसर नहीं छोडूंगा तेरा साथ निभाने में।


जो मैं वक़्त बन जाऊं तू बन जाना लम्हा मैं तुझमें गुजर जाऊं तू मुझमें गुजर जाये।


तुम्हारी ज़ुल्फ़ों के साये में शाम कर लूंगा सफर इस उम्र का पल में तमाम कर लूंगा।


​आपसे रोज़ मिलने को दिल चाहता है​​​ ​कुछ सुनने सुनाने को दिल चाहता है​​​ ​था आपके मनाने का अंदाज़ ऐसा​​​ ​कि फिर रूठ जाने को दिल चाहता है​।


बहके बहके ही अंदाज-ए-बयां होते हैं आप जब होते हैं तो होश कहाँ होते हैं।


ये आलम शौक़ का देखा न जाये वो बुत है या ख़ुदा देखा न जाये ये किन नज़रों से तुम ने आज देखा कि तेरा देखना ​देखा ​ना जाये।


मजा आता अगर गुजरी हुई बातों का अफसाना कहीं से तुम बयाँ करते कहीं से हम बयाँ करते।


यार पहलू में है तन्हाई है कह दो निकले आज क्यूँ दिल में छुपी बैठी है हसरत मेरी।


अदा से देख लो जाता रहे गिला दिल का बस इक निगाह पे ठहरा है फ़ैसला दिल का।


चलते चलते राह में उन से मुलाकात हुई वो कुछ शरमाई फिर सहम सी गई दिल तो हमारा भी किया कि कह दे उनसे अपने दिल की बात... पर कम्बखत इस दिल की इतनी हिम्मत ही न हुई.


सपनों की दुनिया में हम खोते चले गए मदहोश न थे पर मदहोश होते चले गए ना जाने क्या बात थी उस चेहरे में ना चाहते हुए भी उसके होते चले गए।


जो तेरे गुलाबी लब मेरे लबों को छू जायें मेरी रूह का मिलन तेरी रूह से हो जाये ज़माने की साज़िशों से बेपरवाह हो जायें मेरे ख्वाब कुछ देर तेरी बाहों में सो जायें मिटा कर फ़ासले हम प्यार में खो जायें आ कुछ पल के लिये एक-दूजे के हो जायें।


तेरे हर गम को अपनी रूह में उतार लूँ ज़िन्दगी अपनी तेरी चाहत में संवार लूँ मुलाकात हो तुझसे कुछ इस तरह मेरी सारी उम्र बस एक मुलाकात में गुज़ार लूँ।


अब आ गए हो आप तो आता नहीं कुछ याद वरना कुछ हमको आप से कहना ज़रूर था।


चाहा है तुम्हें अपने अरमान से भी ज्यादा लगती हो हसीन तुम मुस्कान से भी ज्यादा मेरी हर धड़कन हर साँस है तुम्हारे लिए क्या माँगोगे जान मेरी जान से भी ज्यादा।


This post have 0 Comments


EmoticonEmoticon

Next article Next Post
Previous article Previous Post